Sunday 18 October 2009

आभारव्यक्ति एवं शुभकामनाएं

आभारव्यक्ति

मेरी पिछली पोस्ट " निंदिया का न आना, विद्रोह और अंत में अभारव्यक्ति" (१२ अक्टूबर ) पर प्रतिक्रिया व्यक्त करने वाले निम्न सभी सम्मानीय क्षुदी और शुभचिन्तक पाठक/ पाठिकाओं... या कहें कि स्नेहिल टिप्पणीकारों (क्रम वही, जिस क्रम में टिपण्णी/ प्रतिक्रिया/ आलोचना/ समालोचना प्राप्त हुई)....

राज भाटिय़ा जी, हिमांशु पाण्डेय जी, योगेश स्वप्न जी, सुलभ सतरंगी जी, महफूज़ अली जी, विनोद कुमार पांडेय जी, अल्पना वर्मा जी, सर्वत एम० ज़माल जी, रश्मि प्रभा जी, संगीता जी, मुरारी पारीक जी, uthojago, अभिषेक ओझा जी, ज्योति सिंह जी, देवेन्द्र जी, हरकीरत हकीर जी, मनोज भारती जी, Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" जी,बली जी, निर्मला कपिला जी, राजे शा जी, प्रेम फर्रुखाबादी जी, डा. टी एस दराल जी, रजनीश परिहार जी, परमजीत बाली जी, समीर लाल (उड़न तश्तरी)जी, गिरिजेश राव जी, तुलसियान पटेल "सच्चाई" जी, सदा जी, रंजना [रंजू भाटिया] जी, दिगम्बर नासवा जी, अमिताभ (अमिताभ श्रीवास्तव) जी, योगेन्द्र मौदगिल जी, ज्योति सिंह जी, रश्मि प्रभा जी, डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक जी, संजय व्यास जी, क्रिएटिव मंच, बबली जी, ज्ञानदत्त पाण्डेय जी, श्याम कोरी 'उदय' जी, डाक्टर संध्या गुप्ता जी, चंदन कुमार झा जी, लवली कुमारी जी, विक्रम जी एवं Mrs आशा जोगलेकर जी,

तथा ११ अक्टूबर की पोस्ट "अभारव्यक्ति' पर टिप्पणीकारों
Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" जी, सुमन जी, महफूज़ अली जी,रजनीश परिहार जी, डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक जी, शरद कोकस जी एवं विनोद कुमार पांडेय जी,

का विशेष रूप से हार्दिक आभारी हूँ कि आप सभी ने पहले की ही तरह स्नेह बनाये रखते हुए ११ एवं १२ अक्टूबर की मेरी पोस्ट पर भी ह्रदय से मेरी हौसला अफजाई कर भविष्य में भी इसी तरह कुछ न कुछ लिखते रहने और पोस्ट करने लायक संबल प्रदान किया है और आशा है कि भविष्य में भी कुछ यूँ ही अपना-अपना स्नेहिल मार्गदर्शन मेरे ब्लाग पर आकर मुझे अनवरत प्रदान करते रहेंगें....

मैं उन गुरुजन से टिप्पणीकारों का भी विशेष आभारी हूँ, जिन्होंने अलग से मेरे मेल ऐड्रेस पर सन्देश लिख मुझे और भी बेहतर लिखने मार्फ़त सुझाव/ टिप्स दिए.

और अंत मे, मैं अपने उन सह्रदय, परम आदरणीय टिप्पणीकारों का भी आभार व्यक्त करना चाहता हूँ, जो प्रायः मेरे ब्लाग पर आकर मुझे अपने आशीष वचनों से नवाजते ज़रूर हैं, किन्तु मेरी पिछली पोस्ट पर किसी न किसी खास काम में व्यस्तता के कारण टीका-टिपण्णी करने से चूक गए।
***************************************************************
शुभकामनाएं

दीपावली एवं भाईदूज के मांगलिक पावन पर्व पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाये.

****************************************************************
अनुरोध

आप सब से विनम्र अनुरोध है कि कृपया इस "पोस्ट" पर टिपण्णी न करे, यह विशुद्ध रूप से सिर्फ और सिर्फ अपने सभी स्नेहिल टिप्पणीकारों के प्रति सम्मानपूर्वक आभारव्यक्ति के लिए है. इस पोस्ट से सम्बंधित किसी भी तरह की टिपण्णी आप मेरी अगली पोस्ट, जो १९ अक्तूबर को पोस्ट होगी, में कर सकते हैं. आशा है आप सभी अपना पूर्वत स्नेह बनाये रखेंगें..........

*****************************************************************

No comments: